4 तरह के होते है पुरुष, आप कौनसे हो ?

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार चार प्रकार के पुरुष होते हैं. पर बहुत कम लोगों को पता है की वो पुरुष कैसे होते है? यानि उन चार प्रकार के पुरुषों की निशानी क्या है ? हम कैसे किसी को पहचान सकते हैं की यह किसी प्रकार का पुरुष है. यानि की यह कौनसी श्रेणी का पुरुष है. आज हम आपको इस पोस्ट में उन्ही चार प्रकार के पुरुषों के बारें में बताने वाले हैं.

पहला पुरुष


पुरुषों को चार श्रेणी में बांटा गया है. पहला होता है जो अंधकार से चलकर अंधकार की तरफ जाता है. यानि की गलत करता और गलत की और ही बढ़ता जाता है.

दूसरा पुरुष


दूसरा पुरुष होता है जो अंधकार से प्रकाश की तरफ जाता है. यानि गलत कर्मो से निकलर अच्छे कर्मों को करता है और अपने आप को बदलता है.

तीसरा पुरुष


तीसरा वो पुरुष होता है जो प्रकाश से अंधकार की तरफ जाता है. यानि की पहले अच्छे कर्म करता है पर बाद में गलत काम करने लग जाता है. और वो अपने आप का नाश कर लेता है.

चौथा पुरुष

यह वो पुरुष होता है जो हमेशा प्रकाश से निकलता है और प्रकाश की और ही बढ़ता है. यानि हमेशा अच्छे कर्म करता है और अच्छे कर्मों का फल पाता है. इनके दिमाग में भी कभी किसी के लिए गलत अवधारणा नहीं आती है.

कर्मों के अनुसार होता है चयन
हर एक पुरुष का चयन उसके कर्मों के अनुसार होता है. यदि आपको लगता है की आप चौथे पुरुष हो तो अपने कर्मों पर एक बार नजर जरुर डाल लेना. क्योंकि कर्मो के अनुसार सभी को बांटा जाता है. कर्मो के अनुसार ही सभी का चयन होता है. सभी को कर्मों के अनुसार अलग अलग श्रेणी मिलती है.

आप कौनसी श्रेणी से हो ?
अब आप देख सकते हो की आप कौनसी श्रेणी में आते हो. क्योंकि आपको अपने कर्मों के बारें में भलीभांति पता है. आप इस आर्टिकल के अनुसार अपने कर्मो की श्रेणी जान सकते हो.

Tadka24.Com © 2018